विशेष परियोजना

विद्या भारती संस्कृति शिक्षा संस्थान, कुरुक्षेत्र द्वारा सन् 1980 से संचालित की जा रही अखिल भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा देश के सभी प्रान्तों में हजारों परीक्षा केन्द्रों पर हो रही है।।

  • 1. इस परीक्षा में गत वर्ष 20,11,240 विद्यार्थी तथा 54,216 अध्यापक/ अभिभावक सम्मिलित हुए। परीक्षा वर्णनात्मक लम्बे-लम्बे उत्तरों में नहीं बल्कि छोटे वस्तुनिष्ठ प्रश्नोत्तर के रूप में होती है।
  • 2. हिन्दी, अंग्रेजी, पंजाबी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़, मलयालम, मराठी, गुजराती, असमिया, बंगला और उड़िया में भी यह परीक्षा होती है।

img
img

इसके द्वारा आप जान पायेंगे

अपने धर्म, अपनी संस्कृति, ज्ञान-विज्ञान के भरपूर खज़ाने को। खेल जगत में भारत की उपलब्ध्यिों को, प्राचीन एवं आधुनिक वैज्ञानिकों को। देश के इतिहास और भूगोल को, भारत ने ज्ञान-विज्ञान-गणित आयुर्वेद अथवा नक्षत्र ज्ञान (एस्ट्रोनोमी) के रूप में विश्व को क्या दिया है, एवं अपने देश के महापुरुष, स्वतन्त्रता सेनानी, वीर बालक, वीर बालिकाओं, देवी, देवता, व्रत-त्योहार, तीर्थ स्थल तथा सामान्य ज्ञान के विपुल भण्डार को।

आकर्षण

  • 45 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को संस्थान की ओर से मिलेगा सम्मानजनक प्रमाण-पत्र
  • परीक्षा के सभी प्रतिभागियों को प्रतिभागिता प्रमाण पत्र दिया जाएगा।
  • शत-प्रतिशत अंक पाने वालों को विद्या भारती की प्रान्तीय समिति द्वारा सार्वजनिक सम्मान एवं पुरस्कार।

पात्रता

  • कक्षा 4 से 12 तक के छात्रा-छात्रा।
  • किसी भी आयु वर्ग के अभिभावक अथवा शिक्षक।

पाठ्य सामग्री

  • प्रत्येक कक्षा के लिए अलग-अलग वस्तुनिष्ठ प्रश्नोत्तर रूप में संस्कृति शिक्षा संस्थान, कुरुक्षेत्र द्वारा प्रकाशित छोटी 50-55 पृष्ठों की सरल, आकर्षक पुस्तक।

img
img

पाठ्य सामग्री

  • प्रत्येक कक्षा के लिए अलग-अलग वस्तुनिष्ठ प्रश्नोत्तर रूप में संस्कृति शिक्षा संस्थान, कुरुक्षेत्र द्वारा प्रकाशित छोटी 50-55 पृष्ठों की सरल, आकर्षक पुस्तक।

शुल्क - प्रश्नपत्र, परीक्षा, प्रमाणपत्र सभी सम्मिलित

  • हिन्दी माध्यम परीक्षार्थियों हेतु 20/- रुपये कक्षा 4 से 12 के छात्रों के लिए।
  • 20/- रुपये अंग्रेजी माध्यम के छात्रों के लिए।
  • 30/- रुपये शिक्षकों एवं अभिभावकों के लिए, श्रेणी-प्रवेशिका, मध्यमा, उत्तमा (हिन्दी माध्यम)।
  • परीक्षा केन्द्र एवं विस्तृत जानकारी के लिए
  • परीक्षा केन्द्र, परीक्षा तिथि और समय की जानकारी के लिए निकट के विद्या भारती द्वारा संचालित किसी विद्यालय को सम्पर्क करें।
  • अपना शुल्क, अपना नाम अपने प्रधनाचार्य जी अथवा कक्षाचार्य जी को लिखवायें।
  • बच्चे स्वयं अथवा उनके माता-पिता भी विद्या भारती के विद्यालय में जाकर सम्पर्क कर सकते हैं।
  • यह परीक्षा बच्चे, अध्यापक एवं समाज के अन्य लोग भी दे सकते हैं।

इस वर्ष --

  • यह परीक्षा होगी आपके विद्यालय में या निकट के विद्या भारती द्वारा संचालित किसी शिशु/विद्या मंदिर में।
  • शीघ्र सम्पर्क कर अपना नाम विद्या भारती के निकटस्थ विद्यालय में परीक्षा के लिए पंजीकृत करवायें।
  • संस्कृति ज्ञान प्रश्नमंच-कक्षा 4 से 12 तक के भैया/बहिनों की प्रश्नमंच प्रतियोगिता विद्यालय स्तर से अखिल भारतीय स्तर पर प्रतिवर्ष आयोजित की जाती है।

कक्षा 9 एवं 10 की संस्कृति ज्ञान परीक्षा
OMR Sheet (Optical Mark Recognition) द्वारा

प्रायोगिक रूप से सत्र 2018-19 में कक्षा 9 एवं 10 की संस्कृति ज्ञान परीक्षा का प्रश्न-पत्र छात्रों द्वारा OMR Sheet पर हल किया जाएगा। यह परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रकार की होगी जिसमें परीक्षार्थी को उत्तर HB पेंसिल द्वारा उपयुक्त स्थान पर गोले को काला करके देना होगा। केवल इस OMR Sheet पर भरे गए उत्तर ही मान्य होंगे। इसके साथ अन्य किसी भी प्रकार की भेजी हुई अतिरिक्त सामग्री मान्य नहीं होगी। इस शीट पर ही अग्रिम कार्यवाही की जाएगी अतः इसे सावधानीपूर्वक बिना किसी पिन लगाए अथवा बिना मोड़े सावधानीपूर्वक संस्थान के कुरुक्षेत्र कार्यालय में भेजना अपेक्षित है।

img