कार्यक्षेत्र

संस्था का कार्यक्षेत्र सम्पूर्ण भारत है तथापि उद्देश्यों की पूर्ति तथा कार्य-विस्तार हेतु संस्था भारत के बाहर अन्य देशों में भी शाखाएँ स्थापित कर सकती है ।

संस्थान के क्रियाकलाप सुचारू रूप से चलते रहें अतः कार्य की सुविधा के लिए 11 क्षेत्रों की रचना की गयी है जो इस प्रकार हैं -

क्षेत्र क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले राज्य
विद्या भारती उत्तर क्षेत्र जम्मू कश्मीर, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़
विद्या भारती पश्चिमी उ॰प्र॰ क्षेत्र उत्तराखण्ड, बृज प्रांत
विद्या भारती पूर्वी उ॰प्र॰ क्षेत्र उत्तर प्रदेश-अवध प्रांत, गोरक्ष प्रांत, काशी प्रांत, कानपुर प्रांत
विद्या भारती बिहार-झारखण्ड क्षेत्र बिहार, झारखण्ड
विद्या भारती पूर्व क्षेत्र ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, उत्तर बंग, अण्डमान निकोबार
विद्या भारती पूर्वोत्तर क्षेत्र असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, त्रिपुरा, मेघालय, नागालैंड, मिजोरम
विद्या भारती म॰प्र॰ क्षेत्र मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़
विद्या भारती पश्चिम क्षेत्र महाराष्ट्र, गोवा, गुजरात, देवगिरी प्रांत, विदर्भ, कोंकण
विद्या भारती राजस्थान क्षेत्र राजस्थान - जयपुर प्रांत, जोध्पुर प्रांत, चित्तौड़ प्रांत
विद्या भारती दक्षिण मध्य क्षेत्र कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश, तेलंगाना
विद्या भारती दक्षिण क्षेत्र तमिलनाडु, केरल, पुदुचेरी, दमन और दीव, लक्षद्वीप समूह, दादरा और नगर हवेली